CAREER

Video Editing Mae Career Kaise Banaye – वीडियो एडिटिंग में करियर कैसे बनाएं

दोस्तों आज का समय एैसा है जब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और इंटरटेनमेंट के क्षेत्र में दिन पर दिन बढ़ोतरी होती चली जा रही है ऐसे में अगर आप एक वीडियो एडिटर के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो‌ यह आपके लिए एक बहुत ही शानदार ऑप्शन रहेगा । दोस्तों आप एक वीडियो एडिटर के रूप में बहुत अच्छी इनकम पा सकते हैं।

इस क्षेत्र में आपको motion-picture केबल यह ब्रॉडकास्ट विजुअल मीडिया इंडस्ट्री के लिए साउंडट्रेक फिल्म और वीडियो को एडिट करना होता है दोस्तों इसमें आपको कई छोटे-छोटे वीडियो क्लिप जोड़कर एक अच्छा वीडियो बनाना होता है और ऐसे ही कई काम आपको करने होते जिससे लोगों का मनोरंजन हो दोस्तों अगर आप भी आज वीडियो एडिटर के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आज आपको हम पूरी जानकारी देंगे बस बने रहिए हमारी पूरी पोस्ट के साथ ।

जॉब प्रोफाइल

दोस्तों वीडियो एडीटर का मुख्य काम अलग-अलग कई वीडियो को मिलाकर एक अच्छा वीडियो बनाना होता है एक वीडियो एडिटर को खराब वीडियो में सुधार करना वीडियो में नया साउंडट्रेक जोड़ना और ऐसे ही कई काम करने होते हैं दोस्तों कई कंपनियां ऐसी होती हैं जो अपनी कंपनी में वीडियो एडिटर को हायर करती हैं और बदले में उसको अच्छी पेमेंट देते हैं दोस्तों अगर आप वीडियो एडिटर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको विशेष किसी योग्यता की जरूरत नहीं होती है बस आपको कंप्यूटर से संबंधित जानकारी और प्रोग्राम की ट्रेनिंग आनी चाहिए ।

वीडियो एडिटर के काम

दोस्तों वीडियो एडिटर का मुख्य काम जब किसी फिल्म की शूटिंग होती है तो उसमें जो राँ वीडियो शूट किया जाते हैं उनको दुबारा अच्छे से एडिट करने के लिए वीडियो एडिटर को हायर किया जाता है एक वीडियो एडिटर को घंटों डायरेक्टर के साथ बैठकर उस वीडियो फुटेज को देखना होता है जो उसने फिल्म शूटिंग के दौरान टेंपरेरी शूट किए थे उस के बाद डायरेक्टर की सलाह से इस वीडियो में जो खराब पार्ट होते हैं उनको हटाना होता है और यह पता करना पड़ता है कि कौन-कौन से पार्ट को वीडियो में रखना है यह सारे काम एक वीडियो एडिटर को करने होते हैं ।

कोर्स

दोस्तों इंडिया में जितने भी अच्छे फिल्म संस्थान है उनके द्वारा वीडियो एडिटिंग का कोर्स करवाया जाता है यह कोर्स सर्टिफिकेट डिप्लोमा और पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा स्तर के होते हैं इन कोर्स में फिल्म एडिटिंग में नॉन लीनियर एडिटिंग,प्रोफेशनल एडिटिंग, कैमरा बेसिक तथा ग्राफिक स्पेशल टेक्निक इत्यादि के बारे में बताया जाता है वीडियो एडिटिंग के अंदर ग्रेजुएट कोर्स में प्रवेश के लिए छात्र को 12 वीं पास होना अनिवार्य है और पीजी डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश के लिए उसको ग्रेजुएशन होना जरुरी है ।

नान लीनियर एडिटर

नॉनलीनियर एडिटिंग के अंदर हमको एडिटिंग के बेसिक कॉन्सेप्ट और उससे जुड़ी चीजों के बारे में बताया जाता है इस कोर्स में हमें फूटेज की कैपचरिंग फोटोस को एडिट करने से लेकर किन विजुअल को कहां फिट करना है और कौन सी म्यूजिक को कहां पर लगाना है किस बारे में जानकारी दी जाती है ।

रोजगार के अवसर

दोस्तों अगर आंकड़े की बात करें तो भारत में हर साल 1000 से भी ज्यादा फिल्मों का निर्माण होता है दोस्तों अन्य देशों से तुलना करें तो भारत में सबसे ज्यादा फिल्मों के निर्माण होते हैं दोस्तों किसी भी फिल्म के निर्माण में उसकी एडिटिंग एक महत्वपूर्ण भूमिका रहती है इसीलिए दोस्तों एक अच्चे वीडियो एडिटर की मांग हर जगह रहती है अगर आप एक अच्छे वीडियो एडिटर हैं तो आपके लिए रोजगार के कई अवसर खुले रहते हैं फिल्म निर्माण के क्षेत्र में आप असिस्टेंट एडिटर से लेकर मुख्य एडिटर के पद पर प्रमोट हो सकते हैं ।

वेतन

अगर आपने फ्रेशर वीडियो एडिटर के रूप में कंपनी ज्वाइन की है तो आपको 7000 से 10000 तक रुपए दिए जाएंगे अगर आपके पास 2 या 3 साल का अनुभव आ जाएगा तब आपको 15000 से ₹30000 तक पेमेंट मिलेगी ।

क्षेत्र

अगर आप‌ वीडियो एडिटर के रूप में किसी कंपनी को ज्वाइन करते हैं तो आपको निम्न‌ क्षेत्र में काम करने को दिया जाएगा

  • विज्ञापन ।
  • फिल्म टीवी और म्यूजिक प्रोडक्शन ।
  • कॉर्पोरेट ट्रेनिंग वीडियो ।
  • पोस्ट प्रोडक्शन स्टूडियो ।
  • फिल्म और टीवी की मार्केटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन ।

आज की पोस्ट के जरिए हमने आपको वीडियो एडिटिंग में करियर बनाने से जुड़ी जानकारी दी है यदि यह जानकारी से जुड़ा कोई आपके मन में प्रश्न है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए आप हमारे साथ बने रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close